बोरियत को दूर करो और लडकी की चुदाई करो

antarvasna, hindi sex story हाय दोस्तो, आज आप लोगो को एक असली कहानी सुनाने जा रहा हूँ | इस कहानी को सामने रखने पर मुझे शर्म तो आ रही है लेकिन इस कहानी को सुनकर मैं आपके सामने कुछ अजीब सुनाकर आपकी बोरियत दूर कर सकती हूँ | फिलहाल तो मैं रीवा की रहने वाली हूँ | ये उस समय की कहानी है जब मैं रायपुर पर रहा करती थी | रायपुर एक ऐसा शहर है जहा पर लोग की बोरियत को दूर करने के लिए शानदार जगह मौजूद है | रायपुर में एक लडकियो का मसाज केन्द्र है | जब मेरा शरीर को दर्द होता था तब मैं उस लडकीयो वाले मसाज केन्द्र पर जाता थी | वहा लडकिया ही केवल मौजूद रहती थी जो लडकियो का मसाज किया करती थी | लडकिया जब मसाज करना शुरु करती थी तो मुझ से कहती थी की आप अपने कपड़ो को उतार दो | मैं अपने कपडे उतार देती थी | लेकिन मुझे नही मालूम था वह एक ऐसी लड़की भी आया करती थी जो मेरी एक लड़के से मित्रता करवा सकती है और कुछ दिन बाद उस लड़के ने मेरी चुदाई किया | ये उन दिनो की घटना है जब मैं रायपुर के एक छोटे से नगर पर रहा करती थी | मुझे अपने शहर के विषय में काफी कुछ मालूम है | जब वो लड़की मेरा मसाज करना शुरु किया तो उसने कहा तुम कहा पर रहती हो | मैंने उस लड़की को बताया की मैं इस मसाज केन्द्र के कुछ दूर पर रहती हूँ | कुछ समय के बाद उस लड़की ने मेरा मसाज करना शुरु कर दिया | उस लड़की ने मुझ से कहा की तुम छाती के बल लेट जाओ | मैं फिर छाती के बल लेट गयी | फिर उस लड़की ने मेरी पीट पर तेल लगाया | कुछ देर तक वो मेरी पीट पर तेल लगा रही थी | पीट पर तेल लगाने के बाद उसने मुझ से कहा की अब मैं आपके सीने पर तेल लगाने वाली हूँ | जब वो तेल लगा रही थी तब उस लड़की ने मुझे बताया की उसका एक बॉयफ्रेंड है |

जब उसे फुर्सत का समय मिलता है तब उसका बॉयफ्रेंड उसका मसाज किया करता था | उस लड़की के विषय में जानकर मैं चकित रह गयी | उस लड़की ने मुझे बताया की वो लड़की एक कमरे में रहती है और फिर उसका बॉयफ्रेंड आता है जो उसकी चूत को चूमकर उसकी चुदाई करता था | उस लड़की ने सुनाया की कैसे उस लड़की की मुलाकात उसके बॉयफ्रेंड से हुई थी | उसका बॉयफ्रेंड किसी कार्य के सिलसिला से शहर आया हुआ था | उस लड़के को एक किराये का मकान की आवस्यकता थी | उसको मेरे पापा ने किराये का कमरा दिया | वो लड़का हमारे साथ रहा करता था | उस लड़के का व्यवहार बढ़िया था | इसलिए मेरे पापा ने उसे किराये का कमरा दिया था | उस लड़के ने एक दिन हमारे लिए मिटाई ले कर आया था | उसके बाद उसने हमे खाने के लिए दिया था | उसकी इस खुभी के कारण उस लड़के से मेरे घर के लोग उसे पसन्द करने लगे थे | मैं भी उस लड़के से बात किया करती थी | एक दिन उस लड़के से मैंने पूछा की तुम जिस शहर से आये हो वहा क्या नौकरी नही है | तब उसने मुझे बताया की हा उसके शहर के लोग एक देहात में रहने वाले लोग की तरह रहते है | क्योकि मेरे शहर में नौकरी तो है लेकिन तनखा उतनी नही है जितना की आराम से रहने के लिए अवश्यक होती है | मैं बात करने के दौरान उस लड़के को छेड़ा करती थी ताकि उस लड़के से हसी मजाक कर सकू | एक दिन उस लड़के से मैंने पूछा की क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है तो उसने मुझे बताया की नही उसकी कोई गर्लफ्रेंड नही है | तब मैंने उस लड़की से कहा की मैं तुम्हे अपना बॉयफ्रेंड बनाने के लिए तयार हूँ |  उस दिन मैंने उस लडके से कहा की मैं उसकी गर्लफ्रेंड बनने के लिए तयार हूँ तो वो हसने लगे |

उसके अगले दिन मैंने उस लड़के को अपना फोन नम्बर दिया | उस दिन के बाद से वो लड़का मुझे फोन किया करता था | मैं फोन पर हसी मजाक किया करती थी | एक दिन जब मेरे घर पर कोई नही था तब एक रोचक घटना हुई उस लड़के ने मेरा दूद दबाया और मेरे होटो को चूमा | उस दिन मैं उस लड़के से हसी मजाक कर रही थी | तभी उसने मेरे दूद को दबाना शुरु कर दिया | उस दिन घर पर कोई नही था इसलिए किसी को कुछ मालूम नही चला की उस दिन क्या हुआ था | कुछ दिन उस लड़के ने मुझे बताया की उसे उसके घर जाना पड़ेगा क्योकि उसके पापा बीमार है | पापा की सेवा करने के लिए वो कुछ दिन के लिए उसके घर लौटकर गया हुआ था | जब वो लड़का उसके शहर गया हुआ था तो मेरे पास उसका फोन नम्बर रहा करता था | उसके फोन नम्बर पर मैं बात किया करती थी | उस लड़के ने मुझ से वादा किया की मैं तुम्हारे घर लौटकर आने वाला हूँ | कुछ महीने के बाद वो घर पर लौटकर आया और उसने मेरे साथ जो किया उसको जानकर आप चाकित रह जाओगे | जब वो मेरे शहर लौटकर आया था तो उस दिन घर पर सब मौजूद थे | लेकिन सोमवार के दिन मेरा घर के लोग मेरे एक मामा के घर जाने वाले थे और ये उस लड़के को मालूम चल गया था | उसने मेरे फोन नम्बर पर फोन लगाया और कहा की तुम सोमवार के दिन तुम्हारे मामा के घर नही जाना और मैंने भी उससे कहा की मैं अपने मामा के घर नही जाने वाली हूँ | जब मेरे घर के लोग मेरे मामा के घर घुमने के लिए गए हुए थे तब वो लड़का मेरे घर के आंगन पर था | उस समय मैं भी अपने घर के अंगन पर मौजूद थी |

उस लड़के ने इधर देखा ने उधर और उसने मुझे गले लगा लिया | मैंने फिर उस लड़के से कहा की कोई देख सकता है इसलिए मुझे बाहर गले नही लगाओ | अगर गले लगाना है तो तुम्हारे कमरे पर चलते है और तुम मुझे वहा पर गले लगाना | मेरे ऐसा कहने पर वो लड़का उसके कमरे के अन्दर गया और फिर मैं उसके कमरे पर पहुची | फिर क्या था उसने मुझे गले लगा लिया | उसने जब मुझे गले लगाया तो मैंने भी उसे गले लगाया | कुछ समय के बाद उस लड़के ने मेरे होटो को चूमना शुरु किया | जब वो मेरे होटो को चूमकर थक गया तो उसने मेरी चूत में हाथ डाला और मेरी चूत कसकर दबाने लगा | ऐसा करने पर मुझे दर्द हो रहा था और मैंने उससे कहा की चूत को दबाओ नही और फिर उसने मेरी चूत को चाटने के लिए उसके जीब का सहारा लिए | फिर वो मेरी चूत को चाटने लगा | उसने कुछ समय तक मेरी जीब को चाटा और फिर वो मुझे धक्के देने लगा | उस समय के बाद मेरे घर की गेट से आवाज आई क्योकि कोई खट खटा रहा था | मैंने झट पट अपने कपड़ो को पहन लिया और फिर मैंने उस लड़के से कहा की मैं किसी अन्य दिन तुम से मिलने के लिए आ सकती हूँ | उसके बाद मैं उस लड़की के घर से बाहर निकलकर आ गयी और मैंने घर का गेट खोल दिया | घर के बाहर मेरे पापा थे और घर के लोग थे | उस लड़के को जब मालूम चला की घर के गेट पर मेरे पापा है तो उस लड़के ने तुरन्त उसके कपडे पहन लिया |

घर पर लौटने के बाद मेरे पापा ने मेरे मामा का हाल सुनाया और मेरे मामा के घर का माहोल मुझे बताया | उन्होने मुझे बताया की मेरे मामा का हाल बढ़िया है | अगले दिन उस लड़के ने मुझ से कहा की तुम कहा पर हो उसने मुझे फोन पर ऐसा कहा था | उस लड़के ने मुझे बताया की क्यो न हम कही बाहर चलते है घुमने के लिए | जब उस लड़के ने मुझ से ऐसा कहा तो मैं उसके साथ घुमने जाने के लिए तयार थी | एक दिन मेरे बदन पर दर्द हो रहा तभी उस लड़के का फोन आया और उसने मुझ से कहा की चलो कही घुमने चलते है | उसने मुझे मेरे मुह पर कपडे पहनने के लिए कहा | मैं अपने चेहरे पर कपडे ढाका हुआ था ताकि कोई मुझे पहचान न सके |  उस लड़के ने मुझ से कहा चलो मैं तुमे एक मेरी बहन के घर ले चलता हूँ | लेकिन उस लड़के ने मुझे तब बताया की उसकी बहन के घर पर कोई नही है वो सिर्फ घर पर है इसलिए अगर तुम्हे घर पर रुकना है तो तुम घर पर रुक सकती हो | उसके बाद उसकी बहन ने मुझे कुछ खाने के लिए दिया | उसका दिया हुआ भोजन फिर मैंने खाया | उसकी बहन ने मुझे बताया की मैं उसके बदन को दबा सकती हूँ | उस लड़की ने मेरे बदन को दबाना शुरु किया | फिर कुछ समय के बाद वो लड़की चली गयी |

कुछ देर के बाद वो लड़का आया जिसे मैंने अपना बॉयफ्रेंड बनाया था | उस लड़के ने मेरा मसाज करना शुरु कर दिया | वो लड़का मेरा मसाज कर रहा था | उसकी बहन किसी वजय से बाहर गयी हुई थी | जब वो मेरा मसाज कर रहा था तब कोई भी वहा मौजूद नही था | जब वो लड़का मेरा मसाज कर रहा था तब मैंने कुछ कपडे नही पहना था | मसाज करने के दौरान उस लड़के ने पहेले मेरी पीट के उपर तेल लगाया | फिर उसके बाद उस लड़के ने मेरी गाड पर तेल मलना शुरु किया | जब वो लड़का मेरी गाड मल रहा था तब उसने मेरी गाड में उंगली को डाला और फिर उस लड़के ने मुझे पलटने के लिए कहा | जब मैं पलट गयी तो उस लड़की ने मेरे दूद को दबाना शुरु किया | फिर कुछ समय के बाद उस लड़के ने मेरी चूत में हात को डाला और मेरी चूत को फिर उसने सहलाना शुरु किया | वो मेरी चूत को अपने हाथो से सहलाने के बाद उसने मेरी चूत में उसका लंड डाल दिया | उस लड़के की बहन के मकान पर कोई नही था इसलिए उस लड़के ने कुछ देर तक मेरी चुदाई किया | जब वो लड़का मेरी चूत के अन्दर उसके लंड को डाला हुआ था तभी उसके लंड से माल निकलना शुरु हो गया | उसका माल मेरी चूत में था और फिर उसका माल मेरे बदन के उपर फैल गया | उस लड़के ने उसका माल मेरे मुह के अन्दर डालने लगा | कुछ देर तक वो लड़का उसका माल मेरे मुह के अन्दर डालने के बाद | अब अगली बार मैं तुम्हे तब चोदने वाला हूँ जब मेरी बहन मुझ फोन करेगी और कहेगी की उसके घर पर कोई नही है |