जिम्मेदारी (कुछ नयी कुछ पुरानी) -9

desi kahani अध्याय 9 इधर ….. डॉ के केबिन से निकलते ही मेरी की कातिल हसी ने विजय को मदहोश कर दिया वो उसके पीछे पीछे किसी पालतू की तरह जाने लगा,मेरी की बलखाती कमर और उभरे हुए गांड ने विजय की सांसे बढ़ा दि थी,एक तो मेरी का कातिल शारीर उसपर उसकी कातिल अदाए,विजय की … Continue..

ईशानी की ख्वाहिश पूरी की

desi sex kahani दोस्तो, प्यार.. इश्क.. मोहब्बत… इन शब्दों का मतलब सिर्फ वही समझ सकते हैं जिन्होंने इसे महसूस किया है, वरना ये सारे शब्द बेमानी से लगते हैं। मैं ईशानी को बेहद चाहने लगा था और मुझे इस बात का भी यकीन था कि वो भी मुझे उतना ही चाहती है। मैंने ईशानी से … Continue..