प्यासी सुषमा आंटी के साथ सेक्स

indian aunty sex stories हेल्लो दोस्तों, मेरा नाम वरुण है, मेरी उम्र 26 साल है। में दिल्ली का रहने वाला हूँ और में आज आपको अपने पहले सेक्स की कहानी सुनाने जा रहा हूँ, जो कि मैंने अपनी 35 साल की आंटी के साथ किया था, जो मेरी ही बिल्डिंग में रहती है। मेरी आंटी का नाम सुषमा है। में उन्हें बचपन से ही पसंद करता था, मुझे बचपन में वो बहुत सुंदर लगती थी, लेकिन फिर में जैसे-जैसे जवान हुआ और मुझे सेक्स के बारे में पता चला और मेरा लंड खड़ा होना शुरू हुआ तो मेरा मन उनसे सेक्स करने को करता था और क्यों ना हो? वो थी ही इतनी सेक्सी, उनके बूब्स बहुत ही मोटे थे, रसीले आम की तरह, अगर कोई देखे तो उसका मन बस चूसते रहने को करे। उन्होंने 35 साल की उम्र में भी अपनी फिगर बहुत अच्छी मैनटेन की हुई है, क्योंकि वो रोज जॉगिंग करती है। वो पहले तो अकेली ही जॉगिंग करती थी, मगर पिछले 1 साल से हम दोनों एक साथ जॉगिंग करते है। मुझे उनके साथ जॉगिंग करने में बहुत मज़ा आता था, क्योंकि मुझे उनके बड़े-बड़े बूब्स ज़ोर-ज़ोर से हिलते हुए एकदम पास से देखने को मिलते थे।
मैंने बहुत ही अच्छी बॉडी बनाई हुई थी और वो मेरी मसल्स और मेरी बॉडी को बहुत पसंद करती थी। में और उनका बेटा पहले एक ही क्लास में थे इसलिए पढ़ाई की गपशप से हम दोनों बहुत ही घुलमिल गये थे। वो मुझे बहुत पसंद करती थी, क्योंकि में पढ़ाई में भी बहुत तेज था और खेलकूद में भी बहुत तेज था और अपने घर की तरफ भी बहुत होशियार था और इन सब में से एक भी खूबी उनके बेटे में नहीं थी। वो जब भी मुझे देखती थी तो स्माइल करती थी। अब मेरी बैचेनी हर दिन बढ़ती ही जा रही थी। अब में सुषमा आंटी के नाम की मुठ मार-मारकर थक गया था। अब मेरा उनसे सेक्स करने को बहुत मन करता था। फिर आख़िर वो दिन आ ही गया इसके लिए मैंने कोई प्लानिंग नहीं की थी, बस ये तो भगवान की ही कृपा थी।

मैंने आपको अपनी फेमिली के बारे में तो बताया ही नहीं। में अपने मम्मी पापा का इकलोता बेटा हूँ। मेरे मम्मी पापा अक्सर जब ऑफिस जाते है तो घर की चाबी हमारे पड़ोसी को दे जाते है। लेकिन उस दिन हमारे पड़ोसी जल्दी चले गये थे इसलिए मम्मी ने चाबी सुषमा आंटी को दे दी। उस दिन मुझे 8 बजे उठकर मम्मी के एक बहुत जरूरी काम से जाना था, जिसके लिए मम्मी ने सुषमा आंटी को मुझे 8 बजे उठाने के लिए कहा था। उस दिन सुबह में सपने में सुषमा आंटी के साथ सेक्स कर रहा था और अपनी नेकर उतारकर अपने लंड को सहला रहा था। अब में तो नींद में था और नींद में ही सुषमा मेरी जान सुषमा मेरी जान कह रहा था और अपने लंड को पकड़कर हिला रहा था। तब इतने में ना जाने कहाँ से सुषमा आंटी आ गयी? और मुझे जगाने लगी, लेकिन में तो नींद में मस्त हुआ पड़ा था।
तभी एकदम से मेरे कानों में ज़ोर से मेरे नाम को पुकारने की आवाज़ आई और मेरी नींद खुल गयी थी। तो तब मैंने देखा कि सुषमा आंटी मेरे सामने खड़ी है। अब मेरी तो हवा गुल हो गयी थी और सोचा कि ये क्या हो गया? अब वो बहुत गुस्से में थी, शायद उन्होंने मुझे नींद में उनका नाम पुकारते हुए भी सुन लिया था। फिर वो गुस्से से बोली कि वरुण ये क्या गंदी हरकत कर रहे हो? तो तब में बोला कि आंटी ये तो नैचुरल है। तो तब वो बोली कि लेकिन ये सब छुपके किया जाता है, ऐसे खुले आम नहीं। तो तब मैंने बोला कि आंटी में तो अपनी तरफ से छुपकर ही कर रहा था, मुझे क्या पता था कि आप आ जाओगे? अब मुझे ऐसा लग रहा था कि आंटी गुस्से में अपनी हंसी को छुपा रही थी। फिर उसके बाद उन्होंने पूछा कि वरुण तुम नींद में मेरा नाम क्यों ले रहे थे? अब यह बात सुनकर तो मेरी पूरी तरह फट गयी थी, लेकिन थोड़ी देर के बाद मुझमें हिम्मत आई और फिर मैंने सोचा कि आज दिल की बात बोल ही डालता हूँ और फ़िर मैंने आंटी को आख़िर बोल ही डाला कि आंटी आई लाईक यू वेरी मच।

तब आंटी बोली कि वॉट? क्या कहा? अब वो बहुत ज़्यादा चौंक गयी थी और बहुत गुस्से में बोली कि तुम्हें पता है ना में तुमसे कितनी बड़ी हूँ? तो तब मैंने कहा कि हाँ जी आंटी, लेकिन में आपसे बहुत प्यार करता हूँ, में अपनी फिलिंग को तो कंट्रोल नहीं कर सकता ना और फिर थोड़ी और हिम्मत जुटाकर मैंने बोल ही दिया और आगे क्या होगा? उसके बारे में नहीं सोचा था। फिर मैंने उनसे कहा कि आंटी मुझे आपके साथ सेक्स करने का बहुत मन करता है, में क्या करूँ? आई लव युवर बॉडी। तब उन्होंने कहा कि बच्चे, लेकिन ये गलत है। तब मैंने कहा कि आंटी आप आजकल के जमाने में ऐसी बात कर रही हो, जहाँ 60 साल का बूड़ा एक 18 साल की लड़की से प्यार करता है। तब आंटी ने कहा कि बेटा तुम ठीक कह रहे हो मगर। तो तब मैंने कहा कि आंटी आप मुझे पसंद करती हो या नहीं? प्लीज आंटी बोलो, कुछ मत सोचो, बस कह दो। अब मुझमें उस दिन ना जाने कहाँ से हिम्मत आ गयी थी |
फिर आंटी ने भी अपनी सारी दिल की बात मुझे बता दी। उन्होंने मुझसे कहा कि आई लाईक यू वेरी मच वरुण, तुम मेरे हीरो हो, में भी तुमको बहुत पसंद करती हूँ, मगर मैंने उम्र की वजह से अपनी फिलिंग पर कंट्रोल की हुई थी, मुझे तुम्हारी जैसी बॉडी जैसे मर्द के साथ सेक्स करने का मन करता था और तुम्हारा लंड भी बहुत मोटा और लंबा है इसलिए में तुम्हारे साथ सेक्स को इन्जॉय करना चाहती हूँ। अब आंटी के मुँह से लंड शब्द सुनकर मेरे तो रोंगटे खड़े हो गये थे। तब मैंने आंटी से कहा कि आंटी फिर से कहो ना, जो आपने अभी कहा। तो तब उन्होंने फिर से बोला कि हाँ वरुण तुम्हारा लंड बहुत बड़ा है, आई लाईक इट। अब यह सुनकर तो में पागल ही हो गया था। फिर आंटी ने कहा कि चलो वरुण आज हम अपने बीच की ये उम्र की दीवार गिरा देते है।

अब मुझे भी नशा चढ़ गया था, तो तब मैंने भी कहा कि हाँ आंटी आज हम अपने बीच की ये सारी दीवारें गिरा देते है, आंटी क्या में आपको अकेले में सिर्फ़ सुषमा कह सकता हूँ? तो तब उन्होंने बहुत सेक्सी अंदाज में कहा कि हाँ-हाँ डार्लिंग। फिर ये सुनकर तो में उनकी स्मूच लेने लगा, वाह क्या मज़ा था? वो क्या टेस्ट था? फिर 15 मिनट तक हम स्मूच ही करते रहे। फिर मैंने कहा कि सुषमा मुझे तुम्हारे बड़े-बड़े बूब्स देखने है, जिन पर मेरी नज़र ना जाने कितने सालों से है? तो तब आंटी ने कहा कि साले हरामी तू मुझे इतने टाईम से देखता है? ले खुद ही मेरे कपड़े उतारकर देख ले। फिर मैंने उनकी नाइटी उतारी, उन्होंने पिंक ब्रा और पेंटी पहनी थी, उनके बूब्स ब्रा के अंदर से ही इतने बड़े थे कि में पागल हो गया था और अब मेरा लंड फुदफुदाने लगा था। अब मेरे मुँह से सिसकियाँ निकलने लगी थी। अब मेरे लंड को देखकर सुषमा हंसने लगी थी और बोली कि पहली बार नंगी औरत देखी है क्या? तो तब मैंने कहा कि देखी तो बहुत है, लेकिन रियल में पहली बार देख रहा हूँ।
फिर मैंने उनकी ब्रा और पेंटी उतारी। अब वो मेरे सामने बिल्कुल नंगी थी और मैं जोश में ऊह, ओह सुषमा, आआआ कहने लगा था और उनके बूब्स दबाने लगा था और उनसे कहने लगा कि आईईईईईईई लव यू सुषमा, आआ। तब वो भी मदहोश होकर बोली कि आईईईईईईईईईई लव यू वरुण, आअहह, चूसो मेरे बूब्स, चूस ले, पूरा मजा ले। अब में भी पागलों की तरह चूस रहा था। फिर मैंने अपने लंड को उनके दोनों बूब्स के बीच में रखा और अपने लंड को उनके बूब्स से सहलाने लगा था। फिर में अपने लंड के लाल भाग को उनके बूब्स के निपल्स पर रगड़ने लगा, वाह क्या मजा था वो? फिर मैं चॉकलेट क्रीम की बोतल लाया और आंटी के बूब्स पर, चूत पर, लिप्स पर ढेर सारी चॉकलेट क्रीम लगा दी। फिर में सारी की सारी क्रीम हर जगह से चूस-चूसकर खा गया, वैसे भी चॉकलेट मेरा पसंदीदा फ्लेवर है इसलिए में अच्छी तरह मजा लेकर हर जगह से खा रहा था।

फिर मैंने और ढेर सारी क्रीम अपने मुँह में भर ली। अब आंटी और में स्मूच करने लगे थे और अपने अपने मुँह में भरी हुई क्रीम को एक दूसरे मुँह में डालने लगे थे। अब आंटी भी पागल हो चुकी थी और कह रही थी कि वरूण क्या मजा दे रहा है तू अम्म्म? आंटी ने जब ये बोला, तो उसे सुनकर मुझे क्या मजा आया था? फिर आधे घंटे तक हम यही करते रहे। फिर में अपनी जीभ से उनकी चूत को लीक करने लगा। फिर जैसे ही मेरी जीभ उनकी चूत से टच हुई। तब वो ज़ोर से बोली कि वरुण ये तुम्हारे अंकल ने कभी नहीं किया, अच्छी तरह से चाट वरुण, फुक मी पुसी विद युवर जीभ, उनकी चूत का टेस्ट बहुत अच्छा था। फिर मैंने उनसे बोला कि सुषमा मुझे बी.एफ देख-देखकर बहुत अच्छी तरह सेक्स का मज़ा देना आ गया है। तब वो बोली कि तो करना आआआअ, ऊुउऊचह। अब उनको मेरे चूत चाटने पर इतना मज़ा आ रहा था कि उनकी चूत ने उसमें ही अपना पानी छोड़ दिया था।
फिर उन्होंने मेरा 9 इंच लंबा तना हुआ लंड पकड़ा और उस पर ढेर सारी क्रीम लगाकर अपने मुँह में ले लिया। अब हम 69 की पोज़िशन में ओरल सेक्स करने लगे थे। फिर जब उन्होंने मेरा लंड अपने मुँह में लिया, तो तब मुझे ऐसी फिलिंग हुई कि क्या बताऊं? अब में तो बस पागल ही हो गया था। अब जब भी कई बार अगर मुझे वो बात याद आती है तो में उस फिलिंग को याद करके मुठ मार लेता हूँ, मैंने पहली बार जो किसी को लंड चुसाया था ना। अब आधे घंटे तक हम 69 की पोजीशन में ही थे और ऐसे करते- करते में झड़ गया था और दोस्तों झड़ने के वक़्त जो मुझे आंटी ने मज़ा दिया था, वो में कभी नहीं भूल सकता हूँ। फिर मैंने आंटी को जैसे ही बोला कि आंटी में झड़ने वाला हूँ। तो तब आंटी ने मेरा पूरा 9 इंच लम्बा लंड अपने मुँह में ले लिया और मुँह के अंदर ही जीभ से मेरे लंड के लाल भाग को सहलाती रही और फिर मेरा सारा पानी उन्हीं के मुँह में ही गिर गया, जिसे आंटी पूरा पी गयी थी। मेरा उस दिन सबसे ज़्यादा पानी निकला था।
फिर आंटी ने कहा कि क्या वरुण इतनी जल्दी झड़ गये? लेकिन आज तुमने मुझे अपने अंकल से 1000 गुना मज़ा दिया है, लेकिन में अभी संतुस्ट नहीं हूँ, मुझे अभी अपनी चूत भी मरवानी है। तो तब मैंने कहा कि आंटी आधा घंटा रुक जाओं, अभी मेरा लंड फिर से खड़ा हो जाएगा। फिर आधे घंटे बाद आंटी ने फिर से मेरा लंड चूसा और गीला किया, ताकि मेरा लंड उनकी चूत में आसानी से घुसे और फिर मैंने उनकी चूत भी चाटी और उसको भी गीला किया। फिर मैंने अपने पहले सेक्स का शुभारम्भ किया। फिर मैंने जैसे ही अपना लंड आंटी की चूत में डाला, तो तब मुझे बहुत गर्म लगा, क्योंकि उनकी चूत बहुत गर्म थी। तो तभी आंटी की चीख निकली और बोली कि आआआआअहह वरुण कितना मोटा है तुम्हारा लंड? आज फाड़ दे मेरी चूत, आज में अपने ड्रीम पार्ट्नर के साथ सेक्स कर रही हूँ, आज मुझे पूरी ज़िंदगी के मज़े दे दे वरुण, ऊओ, आईईईईईईईई लव यू वरुण।

अब आंटी के मुँह से ऐसी बातें सुन-सुनकर मेरी मदहोशी बढ़ती जा रही थी और फिर मैंने उनको चोदना शुरू कर दिया। फिर हम दोनों 1 घंटे तक चुदाई का मज़ा लेते रहे। फिर मैंने अपना सारा वीर्य उनके चेहरे पर गिरा दिया। फिर इसके बाद आंटी बोली कि वरुण आज में पूरी तरह से संतुस्ट हो गयी हूँ, थैंक्स आई लव यू वेरी मच वरुण। तब मैंने कहा आई लव यू टू सुषमा और फिर मैंने उनके होंठो पर एक किस किया। तब वो मुस्कुराई और मुझे हग कर लिया। फिर हम दोनों ने अपने-अपने कपड़े पहने और फिर उन्होंने बाए कहा और फिर हम दोनों ने फ्लाइयिंग किस किए और फिर वो चली गयी। अब हमें जब भी कोई मौका मिलता है तो तब हम सेक्स करते है और खूब मजा करते है ।।
धन्यवाद

error: