प्यासी औरत की कहानी

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम धीरज है और में एक इंश्योरेंस कंपनी में जॉब करता हूँ. मुझे इंश्योरेंस के काम से मुंबई में एक बड़े ऑफिस में जाना पड़ा, जहाँ बहुत सारी खूबसूरत लड़कियां और औरतें जॉब कर रही थी‌‍. मुझे वहीं एक रूम लेना ज़रूरी था, तो मैंने मेरे एक दोंस्त से बात कि तो उसने एक जगह बताई में वहाँ गया और वहाँ की मालकिन से बात कि तो उसने 2100 रुपये के किराए पर उसके फ्लेट का एक रूम मुझे किराए पर दिया. मकान मालकिन एकदम मस्त 30 साल की माल थी. वो एकदम सेक्सी दिख रही थी, उसका फिगर 36-28-38 था और उसकी हाईट 5 फुट 1 इंच थी. रंग गोरा था और वो दिखने में हिन्दी फिल्म की हिरोईन जैसी औरत थी. मैंने उससे खाने के बारे में पूछा तो उसने मुझे बताया कि वो खुद रात के खाने का इंतज़ाम कर सकती है.

फिर भी मैंने उसे देखकर रूम बुक कर लिया और में वहाँ जल्दी से शिफ्ट हो गया. फिर बातचीत के दौरान मुझे समझ आया कि वो वहाँ अकेली ही रहती है और उसका कोई बच्चा नहीं है. उसका पति जो कि एक कंपनी में जॉब कर रहा था वो उसे 12 साल पहले तलाक़ दे चुका है और वो एक महिला गृह उधोग में काम कर रही है. अब मेरा रोज का काम ठीक चल रहा था, में मेरे रूम में बहुत टाईप की ड्रिंक्स का पूरा मज़ा लेता था और पॉर्न मूवी भी देखता था. फिर मेरे पास के ऑफिस में चंदा नाम की एक आईटम औरत काम करती थी. मेरा सम्पर्क हमेशा उससे होता रहता था और रात को में उसके नाम से मुठ मारा करता था.

एक दिन में काम से 4 दिनों के लिए दिल्ली चला गया. उन दिनों मेरी मकान मालकिन पूनम ने मेरा रूम सॉफ करते वक़्त वो सभी ब्लू फिल्म की सीडी देख ली और वो उनको देखकर गर्म हो गई थी. जब में वापस लौटा तो मैंने उसके व्यवहार में चेंज देखा. वो अब मेरे रात के खाने का पूरा ख्याल रख रही थी. फिर एक हफ्ते के बाद उसने मुझे डोर के होल में से मुठ मारते देख लिया और दूसरे दिन मुझसे बहुत फ्रेंकली होकर बातें करने लगी. फिर उसने मुझे सीधे से उसके शरीर की प्यास की प्रोब्लम बताई.

वो जहाँ काम करती थी वहाँ उसे सभी औरतें ताई बुलाती थी और उनका बूढा बॉस सभी खूबसूरत औरतों को अपने कैबिन में बुलाकर उनकी जवानी का मज़ा लेता था. एक दिन पूनम मेरे रूम में आई और पूनम ने कहा में एक औरत हूँ और मेरी ज़िंदगी सूनी है. मेरा पति तो मेरे साथ नहीं है, में कब तक अकेली रात गुजारुँगी, मुझे एक साथी चाहिए जिससे में अपनी हर बात कह संकू, मेरे भी कुछ अरमान है. में जाने कितने दिनों से तड़प रही हूँ, प्लीज़ आज की रात मुझे अपना बना लो, इतना कहकर वो मुझसे लिपट गयी.

फिर हम किस करने लगे और मैंने पूनम का कुर्ता उतारा, ओह्ह्ह माई गॉड क्या बूब्स थे? में पहली बार उसके बूब्स देख रहा था. उसने रेड कलर की ब्रा पहन रखी थी और फिर मैंने बूब्स को दबाना शुरू किया और किस किया और फिर उसकी ब्रा उतारी और बूब्स को चूसने लगा. इतने में पूनम ने मुझे पूरा नंगा कर दिया और मेरे लंड को मुँह में डालकर चूसने देने लगी. मुझे बहुत ज़्यादा मज़ा आ रहा था. फिर मैंने उसको पूरा नंगा किया और उसकी पेंटी भी उतार दी. पूनम की चूत एकदम क्लीन शेव थी. फिर मैंने उसकी चूत चाटना शुरू किया और फिंगरिंग भी की तो थोड़े समय बाद पूनम ने झड़ना शुरू कर दिया और पूनम बोली कि धीरज आई लव यू. आज से तुम मेरे मर्द हो और जब तुम चाहों मुझे आकर चोद सकते हो.

फिर मैंने पूनम को बेड पर लेटा दिया और उसके शरीर को ऊपर से नीचे तक चाटने लगा. उसकी चूत के छेद में उंगली डालकर उसे चोदता रहा. पूनम बोली अब और मत तड़पाओ मुझे, अब मुझे चोद दो में बहुत प्यासी हूँ. फिर में अपना लंड पूनम की चूत में डालने लगा और पहले ही झटके में लंड अंदर नहीं गया. अब पूनम मौन करने लगी, अहह्ह्ह्हह ओह्ह्ह्ह धीरज देखो बेचारी मेरी चूत कैसे तुम्हारे लंड के लिए तड़प रही है? आओ ना उसकी प्यास बुझाओ मेरे राजा, अब नहीं सहा जा रहा. आओ ना चोदो मुझे और मैंने तुरंत उसके होठों पर मेरे होंठ रख दिए. फिर पूनम ने मेरे लंड को पकड़ा और चूत पर रखा और कहा हाँ अब डालो अंदर जल्दी से मुझसे रहा नहीं जा रहा है.

फिर मैंने भी कुछ नहीं सोचा और ज़ोर का झटका मारा और आधा लंड उसकी चूत को चीरते हुए घुसेड दिया, फिर में उसे धीरे-धीरे चोदता रहा. फिर पूनम बोली कि धीरज धीरे करो, तो मैंने एक और झटका मारा तो पूनम ज़ोर से चिल्ला उठी अहह धीरज दर्द हो रहा है.

फिर मैंने उसे धीरे-धीरे चोदना शुरू किया और पूनम और ज़्यादा मौन कर रही थी. ओह्ह्ह में मर गई और फिर पूनम बोली कि बहनचोद धीरे चोद ना, में कहीं भागी जा रही हूँ क्या? में और जोश में आ गया और बोला कि पूनम अब तो तू मेरी रंडी है मेरी 24 घंटे की रखेल है, मुझे बड़ा मज़ा आ रहा है. फिर में ज़ोर-ज़ोर से उसकी चूत में धक्के लगाता रहा, अब पूनम भी बड़बड़ा रही थी. आआहह धीरे मेरी चूत फट जायेगी, आआअहह आअहह और चोदो मेरी चूत को, इसको भोसड़ा बना दो और चोदो मुझे अपनी बीवी बना लो आअहह ऊऊहह माँ ज़ोर से चोदो मुझे, हाइईइ क्या लंड है तुम्हारा? धीरज रूको मत, पेलते जाओ अपना लंड मेरी चूत के अंदर, बहुत मज़ा आ रहा है, मत रूको मेरे राजा, हाइईईई आहहहहहह आआहह. अब में उसे एक स्पीड में चोदने लगा तो वो बोली कि अब और इंतज़ार मत करवा मेरे राजा, चोद दे मुझे, चोद दे इस पूनम रानी को, मेरी चूत कब से लंड की प्यासी है, इसकी तड़प मिटा दे और अब और देर ना कर.

अब पूनम दर्द और मस्ती में गांड उछाल उछालकर चुदवाने लगी थी. पूरा डाल दे और चोद दे अपनी रंडी को आज, मेरी और अपनी प्यास बुझा दे आआ अयाया ह्ह्ह्हम्म्म्म. फिर मैंने उसका दर्द जानते हुए अपनी स्पीड कम कर दी, तो वो बोल पड़ी नहीं मेरे राजा तू रुक मत, दर्द में ही तो मज़ा है. ये मेरी चुदक्कड़ चूत बहुत दिनों से चुदी नहीं है इसलिए फड़फडा रही है. तू चोदना चालू रख और पानी मेरी चूत में ही डाल दे और मेरी आग शांत कर दे हाईईईईईई मर जाऊं में तेरे लंड पर. मुझे आज तक जिंदगी में ऐसा मज़ा कभी नहीं आया था. हाईईइ तेरे लंड ने मुझे मस्त कर दिया है, क्या फौलादी लंड है? आआहहह हाइईईई, में आज से सिर्फ़ और सिर्फ़ तेरी पूनम रानी हूँ. में आज से तेरे लंड की गुलाम हूँ आआहह और ज़ोर से आअहहू. फिर 20 मिनिट के बाद मुझे लगा कि मेरा पानी अब छूटने वाला है. तभी पूनम का शरीर अकड़ गया और वो झड़ गयी. फिर में धक्का लगता रहा और फिर मेरा भी छूटने वाला था तो मैंने पूनम की चूत में ही अपना माल निकाल दिया.

फिर मैंने कहा कि पूनम आज से में जैसे चाहूँ तुझे चोदूंगा. फिर पूनम जोश में आकर मेरे सीने से लिपट गई तो मैंने कहा हाँ पूनम रानी मुझे ऐसे चोदने दे. में तुझे इतना प्यार दूँगा कि तेरे पति ने भी तुझे ना दिया होगा, में तुझे आज से जमकर चोदा करूँगा और बोला कि पूनम रानी आज तो तेरा भोसड़ा बनाकर रख दूँगा और करीब 20 मिनट के बाद मैंने उसकी चूत में उंगली डाली और उसे अपनी उंगली का जादू दिखा दिया और उसका सारा रस निकाल दिया और फिर पूनम भी झड़ गयी और फिर में बेड पर आराम से लेट गया, तो पूनम ने कहा कि ऐसी चुदाई मेरी आज तक नहीं हुई. मुझे आज के जितना मज़ा कभी नहीं आया, लव यू धीरज. मैंने भी कहा कि मुझे भी बड़ा मज़ा आया मेरी पूनम रानी, लव यू टू पूनम.

फिर थोड़ी देर के बाद मेरा लंड फिर से खड़ा होने लगा तो मैंने पूछा तुमने गांड मरवाई है. तो पूनम बोली हाँ चाचा अक्सर गांड चोदते है. ये वही चाचा है जो फैक्ट्री के ऑफिस में औरतों को हमेशा चोदा करते है. तो में बोला तब तो मजा आ जायेगा, में भी तेरी गांड मारूँगा. फिर पूनम ने कहा कि अभी तो मेरी चूत की बारी है उसे और एक बार शांत करो, तो मैंने कहा रानी तेरी चूत इतना मज़ा देती है तो तेरी गांड में लंड घुसेड़कर क्यों ना तेरी इतने दिनों की भूख को को मिटा दिया जाये? इस पर पूनम ने मुस्कुराकर कहा कि मेरे बलम में तो तुम्हारी ही हूँ, जब जी चाहे जैसे चाहे चोद दो मुझे और वो डॉगी स्टाईल में बेड पर झुककर बैठ गई. फिर मैंने उसकी गांड के छेद पर अपना लंड रखकर एक धक्का लगाया. पूनम की गांड काफ़ी टाईट थी. फिर मैंने लंड उसकी चूत में डालकर गीला कर लिया और फिर से उसकी गांड में डालने लगा.

फिर लंड करीब 2 इंच अन्दर गया ही था तो पूनम बोली कि बहुत दर्द हो रहा है, तुम्हारा बहुत बड़ा लंड है. मेरी गांड में धीरे धीरे डालना और वो ज़ोर से चिल्लाने लगी उई माआआअ मेरी तो गांड फटटटट गइईईईईईईईईईईईईईई अहह आज तक कभीईईईईईईईईईईईई मेरे पतिईईईईईईईई ने भी मेरीइईईईईईई गांड नहीं मारी थीईईईईई अह्ह्ह्हहहह आअहह ज़ोर ज़ोर से और ज़ोर से मेरी जान, आआहह मिटा दे मेरी प्यास, तू मुझे अपनी जान बना ले, मुझे ऐसे रोज चोदा कर, अब तक कहाँ था तू मेरे राजा, मेरी प्यास तो आज तूने बुझाई है. फिर में उसकी गांड में लंड पेलता रहा और फिर करीब 15 मिनट के बाद में में उसकी गांड में ही झड़ गया. उस रात मैंने पूनम को 4 बार चोदा और हम सो गये.

दूसरे दिन रविवार था इसलिए वो भी सुबह देर तक मेरे साथ ही सोई रही और फिर रविवार के दिन हमने बहुत मजा किया. फिर बातोँ-बातों में मुझे पता चला कि पूनम मेरे एक पहचान के आदमी की पहली बीवी है और उन दोनों का तलाक़ हो चुका है, उसे प्रेग्नेन्सी की प्रोब्लम थी इसलिए पूनम ने उसे बिना बतायें झगड़ा करके उससे तलाक़ लिया था. इसका मतलब में सुरक्षित था और में उसके साथ और भी ज़्यादा संबंध बना सकता था. मैंने पूनम को नहीं बताया कि में उसके पति को जानता हूँ.