मेरी पत्नी की दूसरे से चुदाई की कहानी मेरी जुबानी

Meri patni ki dusre se chudai ki kahani meri zubani:

हैल्लो दोस्तों मैं राहुल हूँ और मैं शिमला का रहने वाला हूँ और मैं एक शादीशुदा व्यक्ति हूँ | ये मेरी कहानी है जो मैं आप लोगों को बताने जा रहा हूँ जो की मेरे जीवन का बहुत ही दुख भरा सच है | मैं आप लोगों को ज्यादा बोर ना करते हुए सीधे कहानी पर आता हूँ |

मैं एक सिंपल सीधा सादा लड़का हूँ और मेरी शादी एक ही बहुत ही नेचर की तेज लड़की से हुई थी और मेरी शादी को 5 साल हो गए हैं | हमारी फैमिली मैं बस हम दोनों ही रहते हैं | हमारे एक भी बच्चे नहीं हैं क्यूंकि मेरा लंड बहुत ही छोटा है 3 इचं का लंड है और पतला है | मैं अपनी जिन्दगी से बहुत दुखी हूँ | मेरी पत्नी भी मुझसे खुश नहीं रहती वो मुझे हमेशा ताने मरती रहती है की तेरी मूंगफल्ली से चोदेगा मुझे | तेरे लंड में है इतनी ताकत तू गांड मराने लायक है तुझ से शादी करके मैंने अपने जीवन की सबसे बड़ी गलती कर दी तू तो कुछ नहीं कर सकता |

ये सब बाते कह कर वो मेरे दिल को ठेस पहुंचा देती है मैं बहुत निराश हो जाता हूँ अपनी इस कमी से | ये बात तब स्टार्ट हुई जब हमारी सुहागरात थी और वो एक दम मूड में थी और मैं भी | हांलाकि मैं अपनी इस कमी के बारे में पहले से जानता था, फिर जब बारी उसको चोदने की आई और जैसे ही मैंने उसकी चूत में अपना लंड डाला तो उसने कहा की तुम्हारा लंड छोटा है पर मजा आ रही है क्यूंकि वो वर्जिन थी उस टाइम पर | धीरे धीरे मैं शारीरिक कमजोरी महसूस करने लगा और और जल्दी ही झड़ जाया करता था धीरे धीरे हमारे बीच सेक्स के संबंध बंद हो गये और हम दोनों अब सेक्स नहीं करते | मैंने रात में कई बार देखा है जब मेरी नींद खुलती थी वो अपनी चूत में कभी मूली डालती थी कभी बैंगन ऐसे ही काम चलाती थी वो अपना | मुझे बहुत दुःख होता था सब देख के | मैंने कई जगह अपना इलाज कराया कई सारी दवाए भी लीं कि कुछ तो फायदा हो पर कुछ भी फायदा नहीं हुआ | अब हमारे बीच ज्यादा बातचीत नहीं होती थी बस काम की ही बात होती थी | फिर मैंने एक दिन उससे पुछा की सुनो क्या तुम्हारा चुदाई का मन है तो उसने कहा की मेरा चुदाई का मन कब नही होता | 5 साल से बिना चुदे हुए ही रह रही हूँ पर मैं क्या कर सकती हूँ | मैं आपसे प्यार करती हूँ और मैं आपको धोका नहीं दे सकती | पर क्या मेरा मन लंड लेने का बहुत करता है |

मैंने उससे कहा कि अगर मैं तुम्हारी चुदवाने की इच्छा पूरी कर दूँ तो तब तो तुम खुश हो जोगी ना ? तब उसने कहा कि मैं कुछ समझी नहीं क्या कहना चाहते हो ? मैंने उससे कहा की मेरे ऑफिस में एक लड़का काम करता है मैंने सुना है की उसने कई लड़किओं और लेडीज को चोदा है उसका लंड बड़ा है और मैंने ये भी सुना है की वो बहुत देर तक चुदाई कर सकता है | अगर तुम कहो तो मैं तुम्हारे लिए उससे बात कर सकता हूँ | पहले तो उसने मना कर दी फिर मेरे मनाने पर वो मान गई | असल में मैंने उससे झूट कहा था ये सब मेरे ऑफिस में कोई ऐसा लड़का नहीं था मैंने हर एक बात उससे झूट कही थी | अब मैं उसके लिए एक ऐसे लड़के को ढूंढने लगा जो ये सब काम करता हो | दो हफ्ते तक तो मैंने बहाना बना दिया की अभी वो छुट्टी पर गया हिया जैसे ही आयगा तो मैं उससे बात करूँगा | एक दिन मैं नेट पर कुछ सर्च कर रहा था तो मेरी नज़र एक ऐड पर गई उसपे लिखा था सेक्स के लिए आप मेल एस्कॉर्ट हायर कर सकते हैं | मैंने ज्यादा देर न करते हुए नंबर नोट किया और अगले दिन ऑफिस के टाइम पे ही कॉल किया | उन्होंने बात की तो कोई लेडीज थी तो मैंने उन्हें एक आदमी के लिए बोल दिया था और उसके अकाउंट में 5000 हज़ार डलवा दिए थे | दो दिन बाद मेरे नंबर पर कॉल किया उस लड़के ने उस लड़के का नाम अभिषेक था | वो मेरे सामने आया वो एक दम तगड़ा लड़का था उसकी उम्र 28 साल की थी और उसकी बॉडी एक फिट थी |

हमने बातचीत की फिर मैंने उससे कहा की तुम रात को 8 बजे आ जाना फिर मैं ऑफिस का काम करके मेडिकल स्टोर गया और वहाँ से कंडोम खरीद लाया और चुदाई की गोली भी खरीद लाया | मैं घर पहुंचा और मैंने अपनी पत्नी से पूरी बात बता दिया ये सुन के बहुत खुश हुई और मुझे गले लगा कर आई लव यु | बोली मैंने भी उसे आई लव यु टू कहा हम रात में खाना खा के उसका वेट करने लगे | रात को करीब 8:15 पर घंटी बजी मैंने दरवाजा खोला अभिषेक ही था फिर मैंने उसे अन्दर बुलाया और अपनी पत्नी से मुलाकात करवाई फिर उसके बाद मैंने अपनी पत्नी से कहा की इनके लिए खाना लगा दो | मैं और अभिषेक बात करने लगे तो वो मेरी पत्नी की तारीफ करने लगा की तुम्हारी पत्नी बहुत मस्त है और बहुत मस्त फिगर हैं तुम्हारी पत्नी का मैंने भी शर्म से हाँ में हाँ मिला दिया | मुझे बहुत गिल्टी भी फील हो रहा था की मैं अपने सामने ये सब करवा रहा था पर मैं भी क्या करता मैं मजबूर था |

उसने खाना खाया और मेरी पत्नी भी वहीँ बैठ गई और वो उसको घूरे जा रही थी और वो उसको घूरे जा रहा था और मैं उन दोनों को देख रहा था | उसके बाद मैं वहा से उठा कर चला गया और कहा की बस 5 मिनट में आता हूँ | पर मैं गया नहीं था वहाँ से मैं छुपके देखना चाहता था की क्या करते हैं ये दोनों | मेरी पत्नी तुरंत मेरे जाने के बाद उसके पास गई और उसके कंधे में हाथ रख कर बात करने लगी वो धीरे धीरे बात कर रहे थे जो मुझे सुनाई नहीं दे रही थी | मुझे कुछ पल के लिए ऐसा लगा की ये दोनों एक दुसरे को पहले से जानते हैं | फिर मैंने सोचा की हटाओ जानते भी हैं तो क्या आखिर चुदना तो इससे है ही मेरी पत्नी को | फिर वो दोनों एक दुसरे को चूमने लगे फिर अभिएक ने कहा की रुको मैं हाथ धो के आता हूँ | वो हाँथ धोने चला गया और उतने में मेरी पत्नी ने अपने पूरे कपडे उतार के नंगी हो कर सोफे पर बैठा गई | जब वो आया तो उसका लंड खड़ा हो के तम्बू बन गया था उसके पेंट में जो की साफ नजर आ रहा था मैं भी उसके लंड को देखने के लिए बहुत उत्सुक था |

वो भी अपने कपडे उतार के नंगा हो गया था और मेरी गांड फट गई थी उसका लंड देख के 12 इंच का लंड था उसका | मेरी पत्नी के मुंह में लेने की लालसा उसके चेहरे पे साफ नजर आ रही थी | फिर मेरी पत्नी ने उसका लंड पकड के बोली हाय कितना प्यारा लंड है तुम्हारा मेरे पति का तो इतना छोटा है की मेरी प्यास ही नहीं बुझा पाता | आज इस लंड से मैं अपनी संतुष्टि पूरी करुँगी और इतना बोल के वो उसके लंड मुंह में लेके चूसने लगी और वो खड़े खड़े उसके दूध दबा रहा था | मेरी पत्नी अपने दूध से उसके लंड को सहला रही थी और वो मजे से मेरी पत्नी के दूध चोद रहा था | फिर उसके बाद मेरी पत्नी के दूध चूसा और और फिर चूत चाटें जा रहा था और वो सिस्कारियां भर रही थी हाहाहा अहहः अहहः अ अहहः अहहः अहा अहाहा खा जाओ मेरी चूत को चोद दो फाड़ दो मेरी चूत भोसड़ा बना दो मेरी चूत का | ये शब्द मैं पहली बार अपनी पत्नी के मुंह से सुन रहा था |

वो बहुत जोश में थी उसने अपनी चूत चुसवाने के बाद फिर से उसका लंड चूसा और फिर दोनों बेड पर लेट गए | मेरी बीवी उसके लंड में चढ़ कर उससे चूत चुदवा रही थी और अहहः अहहः अहहः अहहाह अहहहहहः ऊउन्न्ह अहहहबा अहाहा अ आ क्या लंड है इतना मस्त लंड है | आज तो मैं पागल हो जाउंगी और चोदो मुझे और चोदो मुझे फाड़ डालो मेरी चूत | वो उसे हर तरीके से चोद रहा था और मैं एक गांडू की तरह ये सब देख रहा था | फिर उसके बाद उसने अपना वीर्य मेरी पत्नी की चूत में ही झड़ा दिया और वो शांत हो गई | फिर चुदाई ख़त्म होने के बाद मैं अन्दर आया और रात काफी हो गई थी तो हम दोनों अलग सोने गये और अभिषेक अलग | रात में मुझे नींद नहीं आ रही थी और मेरी पत्नी को मैं सोने का नाटक कर रहा था | मुझे महसूस हुआ कि ये उठ कर जा रही है मेरा अंदाजा सही था ये अभिषेक के कमरे की तरफ जा रही है | फिर से दोनों में चुदाई हुई और दोनों ने नंबर एक्सचेंज कर लिया | अब तो दोनों मेरे सामने ही चुदाई करते हैं और मैं एक गांडू की तरह सब देखता रहता हूँ |

error: