चूत को चोदता ही चला गया

hindi porn stories हैल्लो दोस्तों, कैसे हो आप सब? मेरा नाम मोहित है और मेरी उम्र भी बहुत अच्छी है। यानी कि में 22 साल का हूँ, में एक जवान लड़का हूँ जिसके अंदर गर्म खून हुलारे करता है, में मुंबई में रहता हूँ और अपनी लाईफ में बहुत ही ज़्यादा खुश भी हूँ। मेरी एक गर्लफ्रेंड भी है, जो कि बहुत ही ज़्यादा सुंदर है और उसका फिगर तो बहुत ही कमाल का है, क्योंकि उसका फिगर ऐसा है जैसे कि किसी हिरोइन का होता है और सच में में उसके इसी हुस्न और इसी फिगर का दीवाना हूँ। में अपनी गर्लफ्रेंड के साथ कई बार बाहर घूमने भी गया हुआ हूँ। मुझे ये सब बहुत अच्छा लगता है और सच कहूँ तो उसे भी ये सब बहुत ही ज़्यादा पसंद है। में हमेशा उसकी केयर करने में लगा रहता हूँ और वो भी मेरी केयर करने में लगी रहती है।

दोस्तों ये सब तो मैंने अभी अपने और अपनी गर्लफ्रेंड के बारे में बताया है, लेकिन अब में आपको अपनी स्टोरी की तरफ लेकर चलता हूँ जिसके लिए में यहाँ आया हूँ और सच बताऊँ तो मेरी ये स्टोरी बहुत ही कमाल की है और इसे पढ़कर आप सब लोगों को बहुत ही ज़्यादा मज़ा आने वाला है। तो अब बिना कोई देर किए सीधा स्टोरी पर चलते है। ये बात आज से थोड़े टाईम ही पुरानी है, में और मेरी गर्लफ्रेंड बहुत ही अच्छी लाईफ बिता रहे थे और खूब इन्जॉय भी कर रहे थे। तब हम दोनों कई बार बाहर घूमने चले जाया करते थे और खूब मस्ती मज़ाक के साथ सब कुछ इन्जॉय भी करते थे। वैसे में आपको ये भी बता दूँ कि मैंने अपनी गर्लफ्रेंड के साथ सेक्स भी कर रखा है और तो और उसे कई बड़े-बड़े लोड़ों का स्वाद भी दिला रखा है, में ये सब इसलिए बता रहा हूँ, क्योंकि में आपसे कुछ भी छुपाना नहीं चाहता हूँ।

दोस्तों उस समय उसे भी नये लंडो को खाने में बहुत मज़ा आता था और मुझे ये देखकर बहुत खुशी मिलती थी कि सब कुछ ठीक चल रहा था। फिर तभी एक दिन मेरी गर्लफ्रेंड मेरे पास आई और मुझसे कहने लग गई कि मुझे तुमसे कोई बात करनी है। तो उसकी ये बात सुनकर में बोला कि बोलो क्या बात है? तो तब उसने मुझे बताया कि उसकी एक पायल नाम की फ्रेंड है, जिसको जॉब की बहुत ही ज़्यादा जरूरत है। तो तब मैंने उससे कहा कि इसमें कौनसी बड़ी बात है? में उसे आसानी से लगा दूँगा, लेकिन बदले में मुझे कुछ चाहिए। अब मेरे मुँह से ऐसा सुनकर मेरी गर्लफ्रेंड सोच में पड़ गई थी और फिर 2 मिनट के बाद बोली कि ऐसा क्या चाहिए? तो तब मैंने उससे कहा कि जो तुम नये-नये स्वाद चखती हो, तो वैसे ही में भी नयी चूत का स्वाद चखना चाहता हूँ। तो मेरी बात सुनकर वो चुप हो गई और फिर तभी 2 मिनट के बाद बोली कि ऐसा नहीं हो सकता है।

तब मैंने उसके मुँह से ना सुनकर उससे ना होने की वजह पूछी। तो तब उसने मुझे बताया कि वो ऐसी लड़की नहीं है, जो तुम्हारे साथ फिज़िकल रीलेशन बनाए। तो तब में उसकी ये बात सुनकर बोल पड़ा कि ठीक है, फिर वो अपनी जॉब खुद ही ढूंढ ले, क्योंकि में ऐसे तो उसकी मदद नहीं करने वाला हूँ। तो तब उसके बाद वो कुछ सोचने लग गई और फिर वो मुझसे बोली कि चलो ठीक है, में उससे बात करती हूँ और उसे शाम को घर पर बुलाती हूँ। फिर उसे घर पर बुलाने की बात सुनकर मैंने उससे कहा कि मेरे दोस्त राहुल के घर पर बुलाए, क्योंकि आज में वहीं जा रहा हूँ तो में तुम्हें वही पर ही मिलूँगा। तो मेरी बात सुनकर वो सब समझ गई और वहाँ से चली गई थी। अब में भी अपने फ्रेंड के घर चला गया था और अब वहाँ पर सिर्फ़ नौकर के अलावा में ही था।

फिर में उसका वहाँ इन्तजार करने लग गया और अब मैंने नौकर को समझा दिया था कि मेरी गर्लफ्रेंड की फ्रेंड जब वो दोनों आएगें तो उनके लिए कोल्डड्रिंक ले आना, लेकिन पायल के गिलास में नशे की गोलियाँ मिला देना। तो मेरी बात सुनकर वो सब समझ गया और फिर हम उनके आने का इंतज़ार करने लग गये। फिर थोड़ी ही देर के बाद वो भी आ गये और फिर में उसके आने पर उससे मिला और उसकी फ्रेंड पायल से भी मिला। में पायल से पहली बारी मिल रहा था इसलिए मुझे उससे मिलने में उत्सुकता भी हो रही थी। फिर जब मैंने उसे देखा तो बस उसे ही देखता ही रह गया। उसके होंठ बिल्कुल ही पतले थे और उसकी आँखें भी बहुत ही कमाल की थी। अब इन सबको देखते ही मेरा लंड खड़ा हो गया था और अब मेरा मन उसका बिना इंतज़ार किए चोदने को कर रहा था।

खैर लेकिन फिर भी मैंने इंतज़ार करना सही समझा, क्योंकि इंतज़ार करने पर ही सब मिलता है। फिर हम तीनों बैठकर बातें करने लग गये। तब नौकर रामू उनके लिए कोल्डड्रिंक ले आया और फिर रामू ने वैसा ही किया जैसे कि मैंने कहा था और फिर उसने वही नशे वाला कोल्डड्रिंक का गिलास पायल को दिया और फिर वो पीने लग गई। अब हम फिर से बातें करने लग गये थे और फिर थोड़ी देर ऐसे ही बातें करने पर अब पायल पर नशा होने लग गया था और फिर वो वहीं पर ही सो गई। अब उसके ऐसे सोते ही मेरी गर्लफ्रेंड घबरा गई थी और बोली कि तुमने ये सब ठीक नहीं किया है, वो ऐसी लड़की नहीं है इसलिए प्लीज उसके साथ ऐसा मत करो। तब में उससे बोला कि मेरी जान तुम घबराओ मत, क्योंकि में उसके जागने पर ही सब कुछ करूँगा और उसे किसी भी तरह की तकलीफ नहीं होने दूँगा। तब वो बोलने लग गई कि ठीक है और फिर उसकी हाँ सुनते ही मैंने पायल को उठाया और कमरे में ले गया। फिर कमरे में लेकर आते ही मैंने उसे बिस्तर पर लेटा दिया और बड़े ही प्यार से उसे देखने लग गया था। अब मुझे वो ऐसे नशे की हालत में बहुत अच्छी लग रही थी और सच कहूँ तो में उसको देखकर आउट ऑफ कंट्रोल हो रहा था। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर मैंने उसके ऊपर आकर उसके होंठो को अपने होंठो में भर लिया और उसके होंठो को चूसने लग गया था और फिर उसके बाद मैंने उसके कपड़े उतारने की सोची और बिना डरे एक-एक करके उतारने भी लग गया था। अब मुझे ये भी पता था कि बाहर मेरी गर्लफ्रेंड चाबी के छेद में से सब देख रही है और में ये भी जानता था कि ये सब देखकर उससे भी खुद को कंट्रोल करना मुश्किल हो रहा था इसलिए मैंने पहले ही नौकर को कह दिया था कि तू भी बहती गंगा में हाथ डाल ही दे और फिर उसने ठीक मेरे जैसे कहने पर बिल्कुल वैसा ही किया। अब इधर मैंने भी उसकी कुर्ती उतार दी थी और उसकी ब्रा भी उतार दी थी। फिर जैसे ही उसके नंगे बूब्स मेरे सामने आए, तो में उन्हें अपने हाथों में लेकर दबाने लग गया और फिर मैंने उसे नीचे से भी नंगा कर दिया और खुद भी नंगा होकर उसके ऊपर बैठ गया था। अब में बस उसके उठने का इंतज़ार कर रहा था, क्योंकि में उसे जगाकर चोदना चाहता था इसलिए में उसके उठने का इंतज़ार करने लग गया था। लेकिन जब वो नहीं उठी तो तब मैंने उसके मुँह पर पानी के छींटे मारे।

फिर जैसे ही उसने आँख खोली तो खुद को और मुझे नंगा देखकर घबरा गई और एकदम चीख पड़ी थी। अब उसकी चीखों की आवाज सुनकर मेरी गर्लफ्रेंड और नौकर नंगे ही अंदर आ गये थे और फिर मेरी गर्लफ्रेंड ने उसे समझाया कि सब ठीकठाक हो जाएगा, तू घबरा मत, कुछ नहीं होता, इसमें तुम्हें बहुत मज़ा आएगा, जिसका तुमने कभी सोचा तक नहीं होगा। तो उसके कहने पर वो घबराई नहीं और फिर मैंने उसकी दोनों टाँगे ऊपर की तरफ उठा दी और फिर उसकी नंगी चूत पर अपना लंड रखकर अंदर डालने लगा, लेकिन मेरा लंड अंदर नहीं गया। तो तब नौकर ने कहा कि क्रीम लगा लो। तो तब मैंने उस पर क्रीम लगाई और नौकर से कहा कि पायल की चूत पर तू लगा और फिर मैंने उसकी कोई परवाह ना करते हुए उसकी चूत में मेरा लंड डाल ही दिया। तो तब वो जोर-जोर से चिल्लाने लगी, लेकिन में नहीं रुका और फिर उसके बाद उसकी चूत से खून भी निकलने लग गया था, लेकिन में उसको चोदता ही चला गया।

अब वो बहुत चिल्ला रही थी, लेकिन अब कुछ नहीं हो सकता था। फिर में उसकी चूत को चोदता ही चला गया और अब वो अभी भी मछली की तरह तड़प रही थी। अब मेरे नौकर ने अभी तक उसके दोनों हाथ अच्छे से पकड़ रखे थे। अब में अपना लंड उसकी चूत में ज़ोर-ज़ोर से डाल रहा था। अब कुछ ही देर के बाद उसकी चूत पूरी की पूरी खुल गई थी और अब वो भी पूरी गर्म होने लग गई थी। अब में उसकी गर्मी को अपने लंड पर महसूस कर रहा था। अब कुछ देर के बाद ही वो अपनी गांड को उठा-उठाकर मेरा लंड अपनी चूत में ले रही थी। फिर ये देखकर मैंने नौकर को इशारा किया कि वो उसे अब छोड़ दे और फिर जैसे ही नौकर ने उसे छोड़ा तो तब वो बोली कि हाँ मेरे राजा अब में चुद चुकी हूँ, तुमने मेरी चूत को पूरा फाड़ दिया है, अब मेरी चूत को इतना मारो कि उसका सारा पानी तुम्हारे इस बड़े से लंड के ऊपर ही निकल जाए।

अब में उसकी बातें सुनकर और भी जोश में आ गया था और उसे अपनी पूरी ताकत से चोदने लग गया था। अब कुछ देर की मेहनत के बाद में थक गया था, इसलिए में उसके ऊपर ही लेट गया। तो तब वो बोली कि प्लीज मुझे और चोदो, अब मेरा पानी निकलने वाला है, प्लीज मुझे और ज़ोर से चोदो, वरना में ठंडी हो जाउंगी। तब मैंने उसके कहने पर अपनी पूरी ताकत लगा दी और अगले 5 मिनट में मैंने अपना लंड पूरा बाहर निकाला और फिर पूरी ताकत से उसकी चूत में वापस से डाला। फिर मैंने ऐसा 8-10 बार किया और फिर उसकी चूत का सारा पानी मेरे लंड के ऊपर ही निकल गया और फिर मैंने भी अपने लंड का सारा पानी उसके मुँह के अंदर ही निकाल दिया और उसे अपना पूरा लंड अच्छे से चटवाया। फिर उसके बाद मैंने उसे जॉब भी दे दी और आते ही उसकी सैलरी भी ज़्यादा कर दी। अब में उसे काफ़ी बार चोद चुका हूँ और वो भी मुझसे मज़े में चुदती है। तो दोस्तों मैंने ये सब मज़े के लिए भी किया और साथ ही साथ उसकी मदद भी कर दी ।।

धन्यवाद …