जिम्मेदारी (कुछ नयी कुछ पुरानी) -18

kamuk ladki अध्याय 18 आज विजय बहुत ही बेचैन था ,बेचैनी थी की आज हमेशा उसके साथ रहने वाली उसकी आईटम किसी और का बिस्तर गर्म करेगी ,ये सोचकर भी उसका शारीर सिहर उठता था,वो रेणुका से प्यार तो नहीं करता था पर ,,,,पर ये क्या था,आज मेरी भी उसे बहुत भाव दे रही थी पर … Continue..

जिम्मेदारी (कुछ नयी कुछ पुरानी) -17

hindi porn stories अध्याय 17 विजय जब निचे आया तो उसे मेरी और डॉ दिखाई दिए ,मेरी को देखकर उसके दिल की धड़कने बढ़ने लगी थी,मेरी से उसकी नजरे मिली तो दोनों के चहरे पर एक मुस्कान आ गयी , “आज तो ये माल ही लग रही है इसे तो मैं घोड़ी बनाकर चोदुंगा,”विजय ने मन … Continue..

जिम्मेदारी (कुछ नयी कुछ पुरानी) -16

desi sex kahani अध्याय 16 इधर किशन अपने किये पर पछता रहा होता है ,उसने कभी किसी से माफ़ी नहीं मांगी थी,पर आज ना जाने उसका दिल ये क्यों कर रहा था की वो जाय और सुमन से माफ़ी माग ले ,लेकिन वो उससे नजरे चुरा रहा था जिसका आभास सुमन को हो चूका था,ऐसे … Continue..

जिम्मेदारी (कुछ नयी कुछ पुरानी) -15

indian sex stories अध्याय 15 बारात आने को थी सभी तैयार बैठे थे ,घर की सभी लडकियों में डिजाइनर लहंगा पहना था,सभी बहुत ही सुंदर दिख रहे थे ,वही सुमन और लाली ने साड़ी पहने हुई थी,विजय और किशन तीन चार पेग लगाकर काम में बिजी थे ,वही अजय और बाली बड़े आराम से बैठे बाते … Continue..

जिम्मेदारी (कुछ नयी कुछ पुरानी) -14

hot kahani अध्याय 14 सभी लोग बस शादी की तैयारियों में व्यस्त थे ,लडकिया सजने सवारने की तैयारिया कर रही थी ,ऐसा लग ही नहीं रहा था की किसी नौकरानी के बेटी की शादी है ,सभी उसे घर का सदस्य ही मान कर जुटे हुए थे ,घर को सिंपल सा सजाया गया था,और पूरा परिवार बहुत … Continue..

जिम्मेदारी (कुछ नयी कुछ पुरानी) -13

desi kahani अध्याय 13 सुबह ही सब तैयार होकर चलने को हुए ,सुबह से सुमन भी अपना समान पकड़कर आ चुकी थी,आ उसने एक हलके रंग का सलवार कमीज पहने था,उसके कपड़ो से ही उसके असली आर्थिक हालत का पता चल रहा था,लेकिन निधि को वो बिलकुल भी पसंद नहीं आया उसने तुरंत उसे अपने कमरे … Continue..

जिम्मेदारी (कुछ नयी कुछ पुरानी) -12

desi kahani सुबह ही सब तैयार होकर चलने को हुए ,सुबह से सुमन भी अपना समान पकड़कर आ चुकी थी,आ उसने एक हलके रंग का सलवार कमीज पहने था,उसके कपड़ो से ही उसके असली आर्थिक हालत का पता चल रहा था,लेकिन निधि को वो बिलकुल भी पसंद नहीं आया उसने तुरंत उसे अपने कमरे में ले … Continue..

जिम्मेदारी (कुछ नयी कुछ पुरानी) -11

indian porn stories शहर के कमरे के का र्रूम अजय आज अपनी सोच में डूबा था और खाना खा कर सीधे रूम में आ गया ,निधि और रानी अपने कमरे में ख़रीदे हुए कपड़ो में बीजी थे वही सोनल विजय के साथ हाल के एक कोने में रखे सोफे पर लेती थी ,वो विजय के गोद … Continue..

जिम्मेदारी (कुछ नयी कुछ पुरानी) -10

desi sex जब दोनों घर पहुचे तब तक सभी देविया तैयार होकर अपने भाइयो का वेट कर रही थी,सोनल और रानी ने सामान्य सा टी शर्ट और जीन्स पहना हुआ था पर निधि कही दिख नहीं रही थी, “निधि कहा है ,”अजय ने पहला प्रश्न किया “वो तैयार हो रही है ,”सोनल ने चिढ़ते हुए कहा … Continue..

जिम्मेदारी (कुछ नयी कुछ पुरानी) -9

desi kahani अध्याय 9 इधर ….. डॉ के केबिन से निकलते ही मेरी की कातिल हसी ने विजय को मदहोश कर दिया वो उसके पीछे पीछे किसी पालतू की तरह जाने लगा,मेरी की बलखाती कमर और उभरे हुए गांड ने विजय की सांसे बढ़ा दि थी,एक तो मेरी का कातिल शारीर उसपर उसकी कातिल अदाए,विजय की … Continue..

जिम्मेदारी (कुछ नयी कुछ पुरानी) -8

hindi sex kahaniyan अध्याय 8 अजय और विजय डॉ चुतिया के क्लिनिक पहुचाते है ,जाने से पहले उन्होंने सभी को तैयार रहने के लिए कहा था ताकि जल्द ही सारी शोपिंग करके पूरा काम निपटा लिया जाय,वो क्लिनिक पहुचते है,एक छोटा सा क्लिनिक था उनका अंदर जाने पर वह कोई भी मरीज नहीं दीखता ,डॉ अपने … Continue..

जिम्मेदारी (कुछ नयी कुछ पुरानी) -7

desi kahani अध्याय 7 सभी शहर वाले घर आ जाते है ,सोनल और रानी बहुत खुस थे की रेणुका की शादी लग गयी है और वो घर में ही रहेगी ,तीनो बहन मिलकर समान की लिस्ट बनाते है,अजय का शहर वाला घर भी काफी अच्छा था,अजय किशन या विजय को वहा भेजना चाहता था ,ताकि शहर … Continue..

अन्तर्वासना स्टोरीज प्रस्तुत करते हैं प्रीती और नंदिनी: मेरा ठरकी मकानमालिक प्रेम अध्याय 2

अन्तर्वासना स्टोरीज प्रीती नंदिनी मेरा ठरकी मकानमालिक प्रेम अध्याय 2

भारतीय सेक्स कॉमिक्स प्रीती और नंदिनी पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

जिम्मेदारी (कुछ नयी कुछ पुरानी) -6

hindi hot kahani अध्याय 6 दूसरे दिन सभी लोग शहर की ओर निकल पड़े निधि अजय और विजय के साथ एक गाड़ी में कुछ लठैत भी थे, अजय सोनल और रानी को सरप्राइस देना चाहता था इसलिए सीधे घर न जाकर वह एक होटल में रुक गए, निधि ने शहर में pab के बारे में बहुत … Continue..